शिवसागर नगर के बीच हत्याकांड को लेकर तीव्र सस्पेंस युवक की हत्या कर आत्महत्या को रूप दिये जाने की कोसिश

सुभम अग्रवाल 

समाचार संगम,शिवसागर १ फरवरी:- शिवसागर नगर के बीचोबीच 10 नम्बर वार्ड स्थीत के पी चारियाली के समीप क्रिस्चियन पट्टी अंचल के गोडाउन घर में दिन हाजिरा करने वाले युवक की हत्या कर आत्महत्या का रूप देने की कोसिश की जारही है। इस घटना के बाद युवक के  परिवार के बीच दुख के साथ साथ न्याय की मांग भी जाग उठी है। गोडाउन घर से पाई गई लाश अंजन शर्मा (22) नामक युवक की है । अंजन शर्मा दिसंगमुख आरक्षी स्थल के समीप लिपाई गाँव के भानुभक्त शर्मा उर्फ भाने का पुत्र था। युवक के परिवार से मिली जानकारी के अनुसार भानुभक्त शर्मा शिवसागर नगर स्थीत के.पी.चारिअली के समीप एक भवन निर्माण में राजमिस्त्री के हिसाब से काम कर रहे थे। कुछ दिन पहले ही उन्होंने अपने पुत्र अंजन शर्मा को भी इस काम में शामिल किया था। कल शाम भानुभक्त अपने पुत्र को कार्य स्थल पर छोड़कर अपने गाँव गया था। लेकिन सुबह 7 बजे गोडाउन में गमछे से अंजन शर्मा का गला बंधा हुआ था और आत्महत्या का दृश्य देखने को मिला। खबर मिलते ही शिवसागर पुलिस दल वारदात में पोहचे और लाश को पस्तमार्टन के लिए भेज दिया। शिवसागर आरक्षी द्वारा मिली जानकारी के अनुसार यह घटना आत्महत्या है पर अंजन के घर वालो का कहना है यह आत्महत्या नही बल्कि हमारे पुत्र का मृत्यु किया गया है। गौरतलब हो कि जिस कुटिया के अंदर अंजन की लाश मिली वह कुटिया चारो तरफ बॉस, बेड़ा एवं तिरपाल से बनी हुई है। कुटिया के अंदर जमीन से केवल 6 फिट उचा बास की छत बनी हुई है। इन तथ्यों से आम जनता एवं अंजन के परिवार वालो को भी असमंजस में डाल दिया है यह हत्याकांड है या आत्महत्या??? समाचार लिखे जाने तक पोस्टमार्टन कि रिपोर्ट नही आई थी।

मोरान के श्रीमंदिर के 22 वें प्रतिष्ठा दिवस के आयोजन की तैयारियां

राजु मिश्रा  

समाचार संगम,मोरानहाट, १ फरवरी :-श्री श्री ठाकुर अनुकूल चंन्द्र के 22 वां वार्षिक श्री मंदिर के प्रतिष्ठा उत्सव के आयोजन की मोरान सतशंग विहार में तैयारियां की जा रही है । सतशंग विहार मोरानहाट के कुंतल गोस्वामी के अनुसार आगामी 4 फरवरी को प्रातः उषा कीर्तन, प्रातःकालीन प्रार्थना, भोग, श्रीमंदिर उदघाटन के समय की घोषणा के पश्चात 11 बजे से धर्म ग्रंथ पाठ, भजन, कीर्तन, भक्ति गीत, प्रसाद वितरण के पश्चात मातृ सन्मिलन, 2.30 बजे धर्मालोचनी सभा, संध्या प्रार्थना, आलोक सज्जा एवं साम 6 बजे उत्सव समाप्त होगी । आयोजकों ने समारोह को सफल बनाने हेतु भक्तों की उपस्थिति एवं सहयोग की कामना की है ।

मुख्यमंत्री के करीबी की बकरियों की चोरी से असम पुलिस महकमे में हड़कंप, स्नीफर डाग स्काड लाकर हाई प्रोफाइल जांच, बकरियों की तीन पैर बरामद

राजु मिश्रा  

समाचार संगम,मोरानहाट, १ फरवरी :-आतंकवाद एवं आतंकवादी गतिविधियों से त्रस्त असम में बड़ी बड़ी चोरी, डकैती, लुटपाट जैसे बारदातों के बाद भी जल्द हरकत में ना आनेवाली असम पुलिस महकमे में मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल के करीबी के घर बकरियों की चोरी के बारदात से पुरी तरह तत्पर नजर आई । सूत्रों के अनुसार मुख्यमंत्री कार्यालय से बकरियों की चोरी की जानकारी मिलते ही असम पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया तथा पुलिस महकमे के आलाधिकारीयों ने शिमलगुड़ी से खोजी कुत्ते का दस्ता ( स्नीफर डाग स्काड ) प्रेषित किया । चराईदेव जिले के मोरानहाट थानाध्यक्ष बिरिंषिं कुवंर स्नीफर डाग दल के साथ अभियान में उतरे और आखिरकार चुराई गई बकरियों का तीन पैर बरामद करने में सफलता पाई । गौरतलब हो कि मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल का करिबी मोरान विष्णुपुर निवासी विजय सोनोवाल का पुत्र जयंत सोनोवाल के घर से 31 जनवरी की प्रातः लगभग 3 बजे दो बकरियों की चोरी हुई थी । दस फुट उंची पक्के की चारदीवारी के अंदर बकरियों के दरबे में ही बकरियों का गला काट दिया गया । उसके बाद बकरियों को ले जाया गया । इस शंदर्भ में मोरानहाट थाने में धारा 380 केश नंबर 07/18 दर्ज कर बड़े बड़े बारदातों में स्नीफर डाग का व्यवहार ना करनेवाली पुलिस, स्नीफर डाग को साथ लेकर बकरियों की तलाश में जुटी दिखी । 2 नंबर सोरुपथार गांव के स्व. गंगा प्रधान के पुत्र रतन प्रधान उर्फ छोटू के घर से पुलिस ने बकरियों की तीन टांगे बरामद करने के साथ ही रतन की मां मीना प्रधान 55 भाई दिनु प्रधान 27 को हिरासत में ले लिया । अपनी पत्नी के साथ डिब्रूगढ़ में किराए के मकान में रहनेवाले रतन प्रधान की तलाश में मोरानहाट पुलिस डिब्रूगढ़ पुलिस के सहयोग से जोरदार अभियान चला रही है । सुत्रों के अनुसार मुख्यमंत्री कार्यालय असम पुलिस के आला अधिकारियों से मामले की पल पल की जानकारी भी ले रहा है ।

◆अल्फा के द्वारा असम -अरुणाचल सिमा पर स्थित कानू चाय बगीचे के कार्यालय व प्रबंधक निवास  क्षेत्र में ग्रेनेड व गोलियों की बौछार ◆

◆अल्फा के द्वारा असम -अरुणाचल सिमा पर स्थित कानू चाय बगीचे के कार्यालय व प्रबंधक निवास  क्षेत्र में ग्रेनेड व गोलियों की बौछार ◆
👉:- विस्फोटक सामग्री बरामद ,अंचल में दहशत  का माहोल 
शमशाद अहमद
 समाचार संगम १ फरवरी सोनारी:-असम-अरुणाचल सिमा तथा चराईदेव जिला अंतर्गत धोधरआली पथ नव जबका से 9 किलोमीटर अंदर स्थित कानू चाय बगीचा में बीते रात 8:40 बजे बागान का चौकीदार नरेन शौचालय के लिए फैक्टरी से 20 कदम की दूरी पर गया था जब वह वापस आने लगा तो उसे बागान व कानूबाड़ी के मोड़ पर दो लोग हथियार के साथ अंधरे में  मिले और नरेन को एक 500 ग्राम की एक  टिफिन दे कर बोले कि ये समान आगे तक पार कर दो डर व दहशत के मारे नरेन जैसे ही समान लेकर  आगे बढ़ने लगा कि दूसरी ओर से एक गाड़ी के आने के कारण गाड़ी के लाइट की रोशनी पड़ने के कारण नरेन ने मौका देख कर समान को 15 मीटर की दूरी पर फेंक कर तेजी के साथ बागान फैक्टरी के गेट की ओर भागने लगा इधर लाइट की रोशनी को किसी सुरक्षा की गाड़ी समझ कर बचने के लिए हथियार के साथ आए दो लोग बिगड़ता काम देख कर तबातोड़ गोलियां बागान फैक्टरी व इधर उधर करने लगे साथ ही एक ग्रेनेड भी  फेक कर ब्लास्ट किया जिसमें किसी को कोईं नुकसान नही पहुचा इधर   नरेन ने इस बात की जानकारी अपने साथ चौकीदारी कर रहे साथी रोकी को बताई जिस पर बागान के खतरे के अलार्म को 3 बार  जोर जोर से बजाना शुरू कर दिया मगर गोली व ग्रेनेड के धमाके के कारण लोग बाहर आने में डरने लगे तब तक हथियार के साथ आये दो लोग फायर करते हुए भागने लगे  और जब तक कोई कुछ समझता तब तक बहुत् देर हो चुकी थी वे अंधरे का फायदा उठा कर  भाग गए। जानकारी  हो कि चाय बागान के प्रबंधन को कुछ महीने पूर्व अल्फा के द्वारा पैसे की डिमांड की गई थी इस हमले को इस कड़ी से जोड़ कर देखा जा रहा है  इस प्रकार के कांड से अंचल में अफरातफरी मच गया इधर घटना स्थल पर चराईदेव जिला पुलिस अधीक्षक  ने पहुँच कर  जायजा लिया व गोलियो के खाली काक व दो जीवित गोली बरामद की साथ ही नरेन द्वारा फेके गए समान के इर्द गिर्द नाकेबंदी कर रखी थी जानकारी हो कि 3 राउंड   गोली चलाने  20 -25  गोली के कारतूस पुलिस को बरामद हुए जानकारी हो कि चाय बागान के सुरक्षा के लिए असम बटालियन के जवानों का एक शिविर काफी दिनों से लगा हुआ है जबकी एक बार कुछ दुष्टकीर्तिओ  ने बागान के कई हेक्टेयर चाय बागान को तहस नहस कर दिया था  जिसकी  सुरक्षा  को देखते हुए वहाँ असम बटालियन के जवानों को रखा गया था  मगर कल जब इतना बड़ा हादसा हुआ तो सुरक्षा की पोल खुलते देर नही हुई   ।इस घटना के बाद से अंचल में एक तीव्र सनसनी फ़ैली हुई है स्थानीय लोगो के अनुसार ये अल्फा का हमला  बताया जा रहा है फिलहाल सेना पुलिस केन्द्रीय पुलिस बल  तलासी  अभियान में लग गई है इधर खबर लिखे जाने तक फेके गए समान की कोई पुष्टि अभी तक नही हुई है। गोलियो के निशान  आज सुबह बागान प्रबन्ध के कार्यालय के आलमारी  दिवाल इतियादी जगहों पर देखने को मिला ।

चुतीया छात्र संस्था के नवनिर्वाचित अध्यक्ष का का मोरान में भव्य अभिनंदन

 न सिर्फ जनगोष्ठी अपितु असमिया जाती के लिए बुलंद करेंगे आवाज – खिरुद सैईकिया

राजु मिश्रा  

समाचार संगम,मोरानहाट, १ फरवरी :-अखिल असम चुतीया छात्र संस्था के केन्द्रीय समिति के नवनिर्वाचित अध्यक्ष खिरुद सैईकिया के आज मोरान पहुंचते पर स्थानीय दल संगठनों ने भव्य अभिनंदन किया । सन्मिलित छ जनगोष्ठी एकता मंच के सौजन्य से मोरान निरिक्षक भवन में आयोजित अभिनंदन समारोह को संवोधित करते हुए नवनिर्वाचित अध्यक्ष श्री सैईकिया ने कहा कि भले ही वे एक जनगोष्ठी के नेतृत्व के रुप में निर्वाचित हुए है मगर सभी जाती जनगोष्ठी एवं संगठनों के सहयोग से वे सदैव वृहत्तर असमिया जाती के लिए आवाज उठाएंगे तथा राज्य के ज्वलंत समस्याओं के सामाधान हेतु भी आवाज बुलंद करेंगे । मंच के अध्यक्ष देवजीत गोगोई के संचालन से प्रारंभ सभा में चुतीया छात्र संस्था की डिब्रूगढ़ जिला समिति, मोरान आंचलिक समिति, आटासु, आसा, आटसा, असमिया युव मंच, गोर्खा छात्र संस्था, अजायुछाप, मोरान महकमा संवाददाता संघ के यदुनाथ पुरी, मोरान आंचलिक व्यवसाई संस्था के अध्यक्ष मयूर बरुवा आदि ने फुलान गमछा, फुलों का गुलदस्ता आदि से श्री सैईकिया का अभिनंदन किया । वहीं आसा केन्द्रीय समिति के सचिव देवेंन उरांग, आटासु के निपन फुकन, स्थानीय पत्रकार सुभित कुमार क्षेत्री, यदुनाथ पुरी, गोर्खा छात्र संस्था के गणेश लामा आदि ने वकतव्य रखते हुए श्री सैईकिया को शुभकामनाएं प्रदान की । मोरान आंचलिक छात्र संस्था से सामाजिक जीवन का शुभारंभ करनेवाले खिरुद सैईकिया कुछ वर्षों तक पत्रकारिता से भी जुड़े रहे । अखिल असम चुतीया छात्र संस्था के साधारण सचिव, मुख्य सलाहकार, प्रभारी अध्यक्ष आदि रह चुके खिरुद को गोलाघाट अधिवेशन में अध्यक्ष रुप में चुना गया ।

●मोरान पानीतोला में पेड़ से लटकता पुरुष का शव बरामद●

राजु मिश्रा  

समाचार संगम,मोरानहाट, १ फरवरी :-डिब्रूगढ़ जिले के मोरान थानांतर्गत पानीतोला में पेड़ से लटकते एक पुरुष के शव की बरामदगी से क्षेत्र में सनसनी फैल गई । पानीतोला के झुरमुटों के एक पेड़ में उसी गांव के अतुल सैईकिया 45 का शव बरामद किया गया । स्थानीय लोगों ने शव को देख पुलिस को सुचना दी, पुलिस ने शव को अपने कब्जे में लेकर अंत्य परिक्षण हेतु डिब्रूगढ़ स्थित असम चिकित्सा महाविद्यालय प्रेषित कर जांच में जुटी है । कृषक अतुल बिति साम अचानक घर से लापता हो गया और आज उसका शव पेंड पर लटकता पाया गया । पुलिस के अनुसार एक पुत्र के पिता अतुल ने आत्महत्या की है मगर उसकी पत्नी और परिजनों को आत्महत्या करने की कोई वजह नहीं मिल पाया है ।

●मोरान में छत्तीसगढ़ी सांस्कृतिक सन्मिलन की व्यापक तैयारी ●मोरान में होगा स्थानीय और छत्तीसगढ़ के नेताओं का जमावड़ा●

राजु मिश्रा  

समाचार संगम,मोरानहाट, १ फरवरी :- असम छत्तीसगढ़ कला-कृष्टि परिषद डिब्रूगढ़ जिला अंतर्गत बामुनबाड़ी आंचलिक समिति के सौजन्य तथा तिलैईजान चाय बागान प्राथमिक गुट एवं स्थानीय जनता के सहयोग से तिलैईजान चाय बागान प्रेक्षागृह में आगामी 3 एवं 4 फरवरी को दो दिवसीय कार्यक्रमों के साथ छत्तीसगढ़ी सांस्कृतिक सन्मिलन के आयोजन की व्यापक तैयारियां की जा रही है । आयोजन समिति के अध्यक्ष संजीव गड़, कार्यकारी अध्यक्ष शंकर चंन्द शाहु, सचिव शिवा गड़ के अनुसार प्रथम दिन सामुहिक साफाई, ध्वजारोहण, स्मृति तर्पण, वृक्षारोपण के पश्चात तिलैईजान चाय बागान के मुख्य परिचालक दीपेन कुमार बरदलै दीप जलाकर मंच का उदघाटन करेंगे । छत्तीसगढ़ से आए अतिथियों के अभिनंदन के बाद 1.45 बजे चाबुवा के पुर्व विधायक राजु शाहु के संचालन में असम के छत्तीसगढ़ी समाज के लोक संस्कृति और छत्तीसगढ़ी के लोक संस्कृति एक तुलनात्मक विश्लेषण शीर्षक प्रथम आलोचना सत्र का आयोजन किया जाएगा, जिसका उदघाटन  । छत्तीसगढ़ रायपुर के सांस्कृतिक विशेषज्ञ अशोक तीवारी द्वारा उदघाटित सत्र में मोरान कालेज के सहायक अध्यापक आत्माराम कुमार, छत्तीसगढ़ सरकार के जनजाति कल्याण आयोग के आयुक्त जी आर राणा, पिछड़े जाती जनगोष्ठी आयोग आयुक्त शियाराम शाहु, कवि तथा चिकित्सक डा. लोहित कुमार बोरा मुख्य आलोचक के रूप में उपस्थित होंगे । साम 6 बजे दीप प्रज्ज्वलन के पश्चात आयोजित सांस्कृतिक संध्या का उदघाटन कलाकार विश्वकर्मा कुवंर करेंगे, जिसमें स्थानीय और छत्तीसगढ़ के कलाकार कार्यक्रम करेंगे । द्वितीय दिन सामुहिक साफाई के पश्चात प्रातः 9 बजे से सामाज के संस्कार में महिलाओं की जिम्मेदारी एवं कर्तव्य शीर्षक द्वितीय आलोचना चक्र का उदघाटन रायपुर आरंग महाविद्यालय की प्रवक्ता मीना बनजारे करेंगी । तिनसुकिया की शिक्षिका शकुंतला शाहु के संचालन में आयोजित चक्र में उपन्यासकार शुशीला राजवंशी के अलावा विभिन्न गणमान्य महिलाएं आलोचक के रुप में उपस्थित होंगी । 12 बजे डिब्रूगढ़ के सांसद रामेश्वर तेली के अध्यक्षता में आयोजित आम सभा का उदघाटन पुर्व मंत्री पवन सिंह घटवार करेंगे । उक्त सभा में असम और छत्तीसगढ़ के विभिन्न नेता, मंत्री तथा विधायक एवं संगठनों के प्रतिनिधि अतिथि के रूप में उपस्थित होंगे । साम को सांस्कृतिक संध्या के आयोजन से सन्मिलन का समापन होगा । परिषद के आंचलिक समिति के अध्यक्ष राजु गड़, सचिव शिवा गड़ ने आयोजन को सफल बनाने हेतु सभी के सहयोग एवं उपस्थिति की कामना की है ।

●मोरान में भी मे-डाम-मे-फी का सफल आयोजन● ●टाई विद्यालय का आधारशिला भी रखा गया ●

राजु मिश्रा  

समाचार संगम,मोरानहाट, 31 जनवरी :-चाउ सेंग रेन सांस्कृतिक केन्द्र और अखिल टाई आहोम छात्र संस्था की मोरान आंचलिक समिति के सौजन्य तथा मोरानवासियों के सहयोग से आज एक दिवसीय कार्यक्रमों के साथ मोरान जयमती पथ स्थित केन्द्र में मे-डाम-मे-फी का सफल आयोजन किया गया । प्रातः ध्वजारोहण, पुजा प्रारंभ के पश्चात चित्रांकन स्पर्धा एवं पुरस्कार वितरण का आयोजन किया गया । दोपहर में प्रिति भोज के पश्चात साम 4.30 बजे ध्वज उतारने के साथ ही समारोह का समापन हुवा । केन्द्र के अध्यक्ष रेब बाएलुंग तथा सचिव रंजीत प्राण गोगोई, आटासु मोरान आंचलिक समिति के अध्यक्ष निरुत्तम फूकन तथा सचिव प्रशांत डिहिंगिंया, आयोजन समिति के संयुक्त सचिव निपन फुकन तथा सुशील फुकन ने समारोह के सफल समापन पर संतोष व्यक्त करते हुए सहयोगियों को धन्यवाद प्रेषित किया । दुसरी तरफ तिलैई ग्रामीण बाजार चाउ सेंग रेंन परिचालना समिति के सौजन्य से तिलैई ग्रामीण बाजार स्थित केन्द्र में मे-डाम-मे-फी का आयोजन करने के साथ ही आहोम जनगोष्ठी के विभिन्न कृष्टि संस्कृति के प्रचार प्रसार हेतु टाई विद्यालय का आधारशिला मोरान के विधायक चक्रधर गोगोई रखने के साथ ही दो लाख रुपयों की आर्थिक अनुदान भी दी । इस अवसर पर मोरान के स्थानीय गणमान्य लोग उपस्थित थे । आहोम जनगोष्ठी ने विद्यालय निर्माण हेतु स्थाई सदस्यता लेते हुए आर्थिक अनुदान नियमित देने की भी घोषणा की । उक्त विद्यालय में छात्रों को टाई भाषा की ज्ञान मुफ्त में दी जाएगी । समारोह के सफल समापन पर समिति अध्यक्ष अनुप डिहिंगिंया तथा सचिव रेब बरुवा ने सभी का आभार व्यक्त किया ।

■सेपन में ट्रेन के चपेट में आकर युवक गंभीर रुप से घायल, दोनों पैर गवांया ■

राजु मिश्रा  

समाचार संगम,मोरानहाट, 31 जनवरी :- चराईदेव जिले के मोरानहाट थानांतर्गत सेपन रेल स्टेशन के समीप तेज रफ्तार जन सताब्दी ट्रेन के चपेट में आकर मुस्तान अली का पुत्र देवान अली 30 ने अपने दोनों पैर गवां दिया । बिति साम लगभग 7 बजे डिब्रूगढ़ की तरफ आ रहे उक्त ट्रेन की चपेट में आकर घायल युवक को तत्काल डिब्रूगढ़ स्थित असम चिकित्सा महाविद्यालय में प्रेषित किया गया । सेपन स्टेशन के समीप रहनेवाला देवान दैनिक मजदूर करता है तथा वह रेल के पटरियों पर चल रहा था तभी ट्रेक की चपेट में आ गया, दुर्घटना में उसका दोनों पैर शरीर से अलग हो गया ।

सरकारी लापरवाही का नमुना एक वर्ष में भी बरडुब हलगुड़ी प्राथमिक विद्यालय की मरम्मत नहीं की गई, प्रेक्षागृह में चल रहा पाठदान

राजु मिश्रा  

समाचार संगम,मोरानहाट, 31 जनवरी :- डिब्रूगढ़ जिले के टिंगखांग विधानसभा क्षेत्र के खोवांग शिक्षा खण्ड अंतर्गत 1 नंबर हलगुड़ी गांव स्थित बरडुब हलगुड़ी प्राथमिक विद्यालय के पांच श्रेणी कक्षाओं का पाठदान शिक्षा विभाग की लापरवाही तथा स्थानीय जन प्रतिनिधि की उपेक्षा की वजह से गांव के सार्वजनिक प्रेक्षागृह में चल रहा है । सरकार के परिवर्तन और विकास तथा शिक्षा विभाग के आमुल परिवर्तन के दावों को थोथा साबित करता यह विद्यालय बच्चों के भविष्य से खिलवाड़ का भी नमुना है । गत वर्ष के फरवरी महिने में आए तुफान ने विद्यालय की टीन उजाड़ दिया था, जिसकी वजह से विद्यालय के पाठदान बधित हुवा मगर विभाग और विधायक से बारंबार गुहार लगाने के बाद भी आज तक विद्यालय की मरम्मत नहीं की गई । ऐसे में स्थानीय लोगों, विद्यालय प्रवंधन, शिक्षकों और अभिभावकों ने छात्रों के भविष्य के बेहतरी को ध्यान में रखते हुए गांव के प्रेक्षागृह में पाठदान की व्यवस्था की । प्रेक्षागृह में चल रहे पाठदान से छात्रों और शिक्षकों को विभिन्न परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है, ग्रामीणों को विभिन्न आयोजनों हेतु प्रेक्षागृह न मिलने से भी परेशानीयां हो रही हैं वहीं विभाग और विधायक तथा जिला प्रशासन पुरी तरह लापरवाह हो गए । ऐसे में ग्रामीणों और विद्यालय शिक्षकों, छात्रों, अभिभावकों ने अब मुख्यमंत्री सर्वानंद सोनोवाल तथा शिक्षा मंत्री हिमंत विश्व शर्मा से विद्यालय की मरम्मत जल्द से जल्द करवाने की गुहार लगाई है ।