कहता है वास्तु व‌िज्ञान,चुटकी भर नमक बना सकता है मालामाल

नमक का इस्तेमाल ज‌िस तरह से खाने को लजीज बना देता है उसी तरह नमक अपके जीवन को भी मजेदार बना सकता है ऐसा वास्‍तु व‌िज्ञान का मत है। वास्तु व‌िज्ञान के अनुसार नमक में गजब की शक्त‌ि होती है जो न स‌िर्फ आपके घर को सकारात्मक उर्जा से भर देती है बल्क‌ि आपके घर में सुख समृद्ध‌ि भी बढ़ाने का काम करती है। लेक‌िन इसके ल‌िए स‌िर्फ खाने में नमक नहीं कई दूसरे कामों में भी नमक का प्रयोग करना होगा।नमक का इस्तेमाल जबसे खाने में होता है करीब-करीब उस समय से नमक को नकारात्मक उर्जा दूर करने वाला भी माना जाता रहा है। इसल‌िए नमक का इस्तेमाल नजर दोष उतारने के ल‌िए भी क‌िया जाता है। अगर आपको लगता है क‌ि आपको या आपके पर‌िवार के क‌िसी सदस्य को नजर लगी है तो एक चुटकी नमक लेकर तीन बार उसके ऊपर से घुमाकर बाहर फेंक दें। कहते हैं इससे नजर दोष खत्म हो जाता है।वास्तु व‌िज्ञान के अनुसार शीशे के प्याले में नमक भरकर शौचालय और स्नान घर में रखना चाह‌िए इससे वास्तुदोष दूर होता है। इसका कारण यह है क‌ि नमक और शीशा दोनों ही राहु के वस्तु हैं और राहु के नकारात्मक प्रभाव को दूर करने का काम करते हैं। राहु नकारात्मक उर्जा और कीट-कीटाणुओं का भी कारक माना गया है। ज‌िनसे घर में सुख समृद्ध‌ि और स्वास्‍थ्य प्रभाव‌ित होता है।शीशे के बर्तन में नमक भरकर घर के क‌िसी कोने में रखने से घर में सकारात्मक उर्जा का संचार होता है। राहु, केतु की दशा चल रही हो या जब मन में बुरे-बुरे व‌िचार या डर पैदा हो रहे हों तब यह प्रयोग बहुत लाभ देता है।डली वाला नमक लाल रंग के कपड़े में बांधकर घर के मुख्य द्वार पर लटकाने से घर में क‌िसी बुरी ताकत का प्रवेश नहीं होता है। कारोबर में उन्नत‌ि के ल‌िए अपने व्यापार‌िक प्रत‌िष्ठान के मुख्य द्वार पर और त‌िजोरी के ऊपर लटकाना लाभप्रद माना गया है।

x

Check Also

चीर नदी के रणगांव और पड़रिया घाट से अवैध बालू खनन को रोका ग्रामीणों ने

बांका :- बालू उठाव को लेकर नदी में धरना पर बेठे ग्रामीण । इस दौरान आक्रोशित लोगों ने क्षेत्रीय विधायक मनीष कुमार, रणगांव पंचायत के ...