◆अल्फा के द्वारा असम -अरुणाचल सिमा पर स्थित कानू चाय बगीचे के कार्यालय व प्रबंधक निवास  क्षेत्र में ग्रेनेड व गोलियों की बौछार ◆

◆अल्फा के द्वारा असम -अरुणाचल सिमा पर स्थित कानू चाय बगीचे के कार्यालय व प्रबंधक निवास  क्षेत्र में ग्रेनेड व गोलियों की बौछार ◆
👉:- विस्फोटक सामग्री बरामद ,अंचल में दहशत  का माहोल 
शमशाद अहमद
 समाचार संगम १ फरवरी सोनारी:-असम-अरुणाचल सिमा तथा चराईदेव जिला अंतर्गत धोधरआली पथ नव जबका से 9 किलोमीटर अंदर स्थित कानू चाय बगीचा में बीते रात 8:40 बजे बागान का चौकीदार नरेन शौचालय के लिए फैक्टरी से 20 कदम की दूरी पर गया था जब वह वापस आने लगा तो उसे बागान व कानूबाड़ी के मोड़ पर दो लोग हथियार के साथ अंधरे में  मिले और नरेन को एक 500 ग्राम की एक  टिफिन दे कर बोले कि ये समान आगे तक पार कर दो डर व दहशत के मारे नरेन जैसे ही समान लेकर  आगे बढ़ने लगा कि दूसरी ओर से एक गाड़ी के आने के कारण गाड़ी के लाइट की रोशनी पड़ने के कारण नरेन ने मौका देख कर समान को 15 मीटर की दूरी पर फेंक कर तेजी के साथ बागान फैक्टरी के गेट की ओर भागने लगा इधर लाइट की रोशनी को किसी सुरक्षा की गाड़ी समझ कर बचने के लिए हथियार के साथ आए दो लोग बिगड़ता काम देख कर तबातोड़ गोलियां बागान फैक्टरी व इधर उधर करने लगे साथ ही एक ग्रेनेड भी  फेक कर ब्लास्ट किया जिसमें किसी को कोईं नुकसान नही पहुचा इधर   नरेन ने इस बात की जानकारी अपने साथ चौकीदारी कर रहे साथी रोकी को बताई जिस पर बागान के खतरे के अलार्म को 3 बार  जोर जोर से बजाना शुरू कर दिया मगर गोली व ग्रेनेड के धमाके के कारण लोग बाहर आने में डरने लगे तब तक हथियार के साथ आये दो लोग फायर करते हुए भागने लगे  और जब तक कोई कुछ समझता तब तक बहुत् देर हो चुकी थी वे अंधरे का फायदा उठा कर  भाग गए। जानकारी  हो कि चाय बागान के प्रबंधन को कुछ महीने पूर्व अल्फा के द्वारा पैसे की डिमांड की गई थी इस हमले को इस कड़ी से जोड़ कर देखा जा रहा है  इस प्रकार के कांड से अंचल में अफरातफरी मच गया इधर घटना स्थल पर चराईदेव जिला पुलिस अधीक्षक  ने पहुँच कर  जायजा लिया व गोलियो के खाली काक व दो जीवित गोली बरामद की साथ ही नरेन द्वारा फेके गए समान के इर्द गिर्द नाकेबंदी कर रखी थी जानकारी हो कि 3 राउंड   गोली चलाने  20 -25  गोली के कारतूस पुलिस को बरामद हुए जानकारी हो कि चाय बागान के सुरक्षा के लिए असम बटालियन के जवानों का एक शिविर काफी दिनों से लगा हुआ है जबकी एक बार कुछ दुष्टकीर्तिओ  ने बागान के कई हेक्टेयर चाय बागान को तहस नहस कर दिया था  जिसकी  सुरक्षा  को देखते हुए वहाँ असम बटालियन के जवानों को रखा गया था  मगर कल जब इतना बड़ा हादसा हुआ तो सुरक्षा की पोल खुलते देर नही हुई   ।इस घटना के बाद से अंचल में एक तीव्र सनसनी फ़ैली हुई है स्थानीय लोगो के अनुसार ये अल्फा का हमला  बताया जा रहा है फिलहाल सेना पुलिस केन्द्रीय पुलिस बल  तलासी  अभियान में लग गई है इधर खबर लिखे जाने तक फेके गए समान की कोई पुष्टि अभी तक नही हुई है। गोलियो के निशान  आज सुबह बागान प्रबन्ध के कार्यालय के आलमारी  दिवाल इतियादी जगहों पर देखने को मिला ।